Quantum Computer क्या है? और कैसे काम करता है
Technology

Quantum Computer क्या है ? और काम कैसे करता है पूरी जानकारी हिंदी में

Technology की दुनिया में तेजी से विस्तार हो रहा है, इंसानों की जगह अब मशीनें लेने लगी है एक समय ऐसा भी आया था जब Computer के विकास ने technical क्षेत्र में क्रांतिकारी बदलाव किया था अब Artificial Intelligence चिकित्सा से लेकर हथियार तक हर एक क्षेत्र में computer और robot के इस्तेमाल को एक नया रूप दे दिया है । 

आज कोई भी क्षेत्र हो चाहे वह शिक्षा का क्षेत्र हो , चाहे Space Science, हो सभी जगहों पर computer का इस्तेमाल किया जाता है । जब से computer बना है तब से उसका size छोटा होता जा रहा है लेकिन उसके कार्य करने की capacity increase ho गई है आपने यह चीज देखी होगी कि आपके mobile की chip  जो आज से 10 साल पहले केवल 1Gb की होती थी वही चिप उतनी ही साइज में आज आपको 1-Tb की मिल रही है इससे हम यह अंदाजा लगा सकते हैं कि technology कितनी तेजी से आगे बढ़ रही है


computer में लगातार प्रगति देखने को मिल रही है इस प्रगति के साथ research  चल रहा है जिसका नाम है Quantum Computer. विशेषज्ञों के अनुसार एक विकसित Quantum Computer की क्षमता super computer  से भी ज्यादा होती है

ऐसा माना जा रहा है कि Quantum-Computer future का computer है जो कुछ सालों में हमारे घरों और कई तरह के कार्य क्षेत्रों में राज करने वाला है ऐसे में यह जरूरी है कि हम सभी को पता होना चाहिए कि Quantum-Computer क्या है और यह आज के computer से अलग कैसे हो सकता है। इसलिए आज के इस Article में हम आपको Quantum Computer से जुड़ी full information देने वाले हैं

तो चलिए सबसे पहले जानते हैं कि Quantum-Computer क्या है? Quantum-Computer अक ऐसी machine है जो Physics के आधारों और नियमो का इस्तेमाल करता है और data को Store करता है Quantum-Computer कठिन काम को कुछ ही time में successful कर सकता है। जिसे की आज के जमाने के computer में हम ऐसा करने की सोच भी नहीं सकते

Quantum-Computer भविष्य का कंप्यूटर है। यह आज के जमाने के कंप्यूटर से बिल्कुल ही अलग है और powerfull होते हैं इसके पीछे एक बहुत ही खास वजह है कि मौजूदा कंप्यूटर Program को Run करने या किसी भी तरह की Calculation के लिए Binary Digit यानी Bits का इस्तेमाल करते हैं 

जिससे data को 0 और 1 के form में रखा जाता है हमारे computer में जितनी भी तरह की Information होती है वह इन्हीं Bits के रूप में रहती है । Binary Digit का उपयोग machine Language में program लिखने के लिए किया जाता है जिसके केवल दो Value होते है 0 और 1

चुकी हमारा computer इन्हीं binary digit को ही समझता है और उसके हिसाब से कार्य को पूरा करता है। कम्प्यूटर के circuit में Transistors लगे होते है जो इन Bits को पहचान लेते हैं और इससे electrical signal में change कर data को सभी parts में भेज देते हैं कोई भी software जो कंप्यूटर में Run करने के लिए तैयार किया जाता है 

उसे computer में load करने के बाद processor उसे फिर मशीन language में convert करता है जिससे computer उस प्रोग्राम को समझकर task पूरा करता है। Quantum कंप्यूटर में binary digit के जगह पर Quantum Digit का इस्तेमाल होता है। Quantum डिजिट को short form  में क्यूबिट्स कहा जाता है । common computeer कंप्यूटर में इस्तेमाल होने वाले Bit की एक बार में सिर्फ दो ही पहलू हो सकती है

या तो 1 की वैल्यू 1 होगी या तो 0 होगी, लेकिन Bits Ki Value एक ही बार में 0 और 1 से भी ज्यादा हो सकता है क्यूबिट्स एक ही समय में तीन Value Put कर सकता है या तो 1 की Value 1 होगी या तो 0 की Value 0 होगी या तो फिर दोनों ही एक साथ होगी। इसका मतलब यह है कि एक साथ चार Value रख सकती है । यही खूबी Quantum Computer को खास बनाती है 

साथ ही इसकी क्षमता और स्पीड भी दूसरे computerके मुकाबले ज्यादा होती है क्वांटम कंप्यूटर आम कंप्यूटर के मुकाबले complex calculation को भी बड़ी ही आसानी और तेजी से कर सकता है। अब हम जानते हैं कि क्वांटम कंप्यूटर काम कैसे करता है?

Quantum Computer काम कैसे करता है?

computer chip के स्थान पर परमाणुओं Autom Calculation के लिए प्रयोग करते हैं। कंप्यूटर का ख्याल वैज्ञानिकों के दिमाग में उस वक्त आया जब उन्होंने समझा कि परमाणु प्राकृतिक रूप से complex  calculator है । Science के अनुसार कोई भी item प्राकृतिक रूप से घूमता रहता है जिस तरह से एक magnetic compass में सुई घूमती रहती है ठीक उसी तरह होता है 

यह या तो ऊपर की तरफ होता है या फिर नीचे की तरफ होता है ये digital तकनीकी के साथ मेल खाता है जो प्रत्येक डेटा को 1 या 0 के फार्म में प्रस्तुत करता है किसी आइटम का ऊपर जाने वाला Spin एक हो सकता है और नीचे जाने वाला Spin जीरो हो सकता है लेकिन अगर ऑटम के spped का मापन किया जाए तो यह एक ही समय में उपर या नीचे दोनों तरफ हो सकता है

इसी वजह से यह simple computer के bit के बराबर नहीं होता। ये कुछ अलग है जिसे वैज्ञानिकों ने इसे क्यूबिट का नाम दिया है जो एक ही बार में इसे 0 या 1 दोनों की वैल्यू को Put कर सकता है। ऐसा कहा जाता है कि 40 क्यूबिट वाले क्वांटम कम्प्यूटर की speed आज के वर्तमान सुपर कम्प्यूटर के बराबर होती हैं । 

और ये आज के सुपर कम्प्यूटर से कहीं ज्यादा तेजी से data की गणना के पायेंगे। क्वांटम कम्प्यूटर में Quantum कंप्यूटिंग का इस्तेमाल किया जाता है जो क्वांटम फिजिक्स के नियमों पर आधारित होता है क्वांटम कम्प्यूटर में जिन क्यूबिट का उपयोग होता है उनके अंदर इतनी मात्रा में ऊर्जा भरी होती है कि इसे कुशल बनाने के लिए ज्यादातर Qubits को शुन्य के तापमान में ठंडा करके रखा जाता है 

जो कि अंतरिक्ष के तापमान से भी ठंडा हो जाता है अगर इन Qubits का temperature शून्य से भी कम नहीं हुआ तो एक काम कर पाने की स्थिति में नहीं होते हैं, इसीलिए क्वांटम कम्प्यूटर में प्रोग्रामिंग का काम थोड़ा अलग तरीके से होता है। इसे बनाना बहुत जटिल काम होता है और अब हम जानते हैं

Quantum Computer का भविष्य क्या है?

आज की 21वी सदी में Quantum Computer को लेकर लोगों की काफी सरी उम्मीदें है जब से कम्प्यूटर अस्तित्व में आया है लगातार powerfull बनता जा रहा है इसीलिए किसी को तेजी से काम करने वाल कम्प्यूटर चाहिए तो किसी को powerful computer चाहिए। हालांकि इस बात का अंदाजा लगाना मुश्किल है

Quantum Computer कब तक बनकर तैयार हो जाएगा क्योंकि क्वांटम कंप्यूटर बनाना इतना आसान नहीं है इसके लिए ऐसे advance tools और जटिल algorithm की आवश्यकता है जो फिलहाल हमारे पास मौजूद नहीं है । एक बार क्वांटम कंप्यूटर बन गया तो यह किसी भी task या APPLICATION को कुछ सेकंड में खोल करके अपना काम करके हमें आउटपुट दे देगा लेकिन अल्गोरिदम को बनाना इतना आसान नहीं है,

एक तो इसे बनाने में कड़ी मेहनत लगती है और साथ ही इसे बनाने में काफी समय लगता है। इसीलिए क्वांटम कम्प्यूटर कब तक बनेगा यह बताना थोड़ा मुश्किल है। Quantum Computer के ऊपर बहुत सारे वैज्ञानिक शोध कर रहे हैं जिससे इसे बनाने में काफी मदद मिल सकती है ।क्वांटम कंप्यूटर की क्षमता को देखते हुए सुरक्षा की दृष्टि से देखते हुए इसे महत्वूर्ण माना जा रहा है । 

यही वजह है कि इसकी संभावनाएं पहचान चुके कंपनियां इस पर अपना पैसा लगा रखी है Google, IBM, Intel, Microprocessor जैसे दिग्गज अमेरिकी companies Quantum Computer की दिशा में शोध कर रहे हैं indian government ने भी इस विषय में शोध को बढ़ावा देने के लिए Quantum Information Science And Technology का गठन किया है ।

 Quantum Computer technique के जरिए health care, comunication , artificial intelligence, science agreeculture जैसे क्षेत्र में बहुत से बदलाव लेता है। तो दोस्तो आशा है कि आप को इस Article से पता चल गया है की Quantum Computer क्या है ,और यह कैसे कार्य करता है और भविष्य में इसका उपयोग कैसे किया जाएगा ।इससे जुड़ी सारी जानकारियां आपको मिल गई ।

conclusion

मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है कि मेरे लेख के जरिए आपको दिए विषय पूरी जानकारी प्राप्त हो सके ,ताकि आपको कहीं और जाना ना पड़े इस Article से जुड़ी कोई भी परेशानी हो तो प्लीज नीचे Comment Box में जरूर लिखें ताकि हम आपकी परेशानी को जल्द से जल्द दूर करें और Article अगर पसंद आए तो please like करें और शेयर करें धन्यवाद

You Can Share This Post!

author

Admin

By Maxhindi.in

नमस्कार दोस्तों मैं Er Amit Gupta MaxHindi Technical Admin/Author हूँ Education की बात करू तो Engineering Graduate हूँ और मुझे Technology से जुडी नयी-नयी चीज़े सिखाने और सीखने में बहुत अच्छा लगता है आप लोग ऐसे ही सहयोग देते रहे ताकि आप के लिए नयी-नयी जानकारी लाता रहू | Thank You :(# We MaxHindi Team Support Digital Knowledge Digital India जय हिंद वंदेमातरम् |

0 Comments

Leave Comments

captcha