OXYGEN क्या होता है और इसका history ?

OXYGEN क्या होता है और इसका history ?

हैलो दोस्तों, कैसे है आप लोग आज मै आप लोगो से एक ऐसे तत्त्व की बात करने जा रहा जिसके बिना पृथ्वी पर जीवन की कल्पना भी नहीं की जा सकती जी, मै बात कर रहा ऑक्सीजन की, जिसे हम लोग प्राणवायु भी कहते है

अगर पृथ्वी पर ऑक्सीजन न होती तो हो सकता है जैसा जीवन यहा आज हम देखते है वैसा न होता ऑक्सीजन, कहने तो तो बस एक गैस है परन्तु ये जीवन का आधार है.

आज पृथ्वी पर जितने प्रकार की जैव विविधता देखने को मिलती है उसमे से कुछ बैक्टीरिया और जीव को छोड़ कर सम्पूर्ण जीवन इसी गैस पर आश्रित है तो आइये जानते है ये OXYGEN क्या है ?

OXYGEN जिसको हम लोग (O2) से संकेत करते है एक रंगहीन, स्वादहीन गैस है इसकी खोज J.Priestley और C.W. शेले वैज्ञनिक के द्वारा की गयी थी ये एक डाई एटॉमिक गैस है ये तीसरा ऐसा रासायनिक तत्त्व है जो पृथ्वी पर सबसे अधिक मात्रा में पाया जाता है

वायु में करीब 29.29 प्रतिशत मात्रा ऑक्सीजन होती है चांदी को गरम देने पर ये ऑक्सीजन को अपने तरफ अवशोषित कर लेता है और ठंडा होने पर अवशोषित ऑक्सीजन निकल जाती है इस प्रक्रिया को चांदी का उदवमन कहते है हम सभी को साँस के लिए ऑक्सीजन की जरुरत होती है

OXYGEN की पहचान करने के लिए उसे किसी चिंगारी पर छोडा जाता है अगर वो चिंगारी प्रज्वलित होकर जलने लगे तो ऑक्सीजन की पहचान हो जाती है
OXYGEN आवर्त सारणी का 8वा तत्त्व है इसका इलेक्ट्रॉनिक विन्यास के आधार 1S2 2S2 2P4 होता है इसे आवर्त सारणी के उपवर्ग 6A में रखा गया है


ऑक्सीजन का हिंदी नाम जारक है और चिन्ह (o) है. सभी पेड पौधे हमे ऑक्सीजन देते है एवं कार्बन डाई आक्साइड ग्रहण करते है. लेकिन पीपल, नीब का पेड हमे सबसे ज्यादा ऑक्सीजन प्रदान करता है ये हमे 24 घंटे ऑक्सीजन प्रदान करता है इसीलिए पर्यावरण को हरा भरा रखे एवं पेड़ो का संरक्षण करे तभी हमारा जीवन सुरक्षित रहेगा

ऑक्सीजन की कमी होने पर हमे कैंसर होने का डर रहता है ऑक्सीजन गैस हमारे लिए इतनी जरुरी है की अगर 5 सेकेंड अगर पृथ्वी से ऑक्सीजन गायब हो जाये तो दिन में अँधेरा छा जाये एवं कान के परदे फटने का खतरा हो जायेगा

ऑक्सीजन की फैक्ट्री वनस्पति को कहा जाता है क्युकी 117 लीटर ऑक्सीजन प्रति साल औसत आकार के पड़ो की पत्तिया बनाया करती है इसीलिए पेड़ पौडे हमे जीवन प्रदान करने का काम करते है वैज्ञानिको के अनुसार 3.6 अरब साल पहले धरती पर ऑक्सीजन बनना शुरू हो गयी थी

जिस कारण मनुष्य दिन भर में कुछ भी ग्रहण करे या खाने में कुछ भी लेले उसका 25 प्रतिशत भाग ऑक्सीजन ही होता है ऑक्सीजन एक मॉलिक्यूल है जो दो ऑक्सीजन एटम से मिल कर बना है ऑक्सीजन अलोट्रोप के रूप मे पृथ्वी के उपरी भाग में ओजोन के रूप में मौजूद है जो हमे UV किरणों से बचाती है OXYGEN का घनत्व 1.4290 प्रति लीटर पाया जाता है |

हमारे प्लेनेट एअर्थ पर ऑक्सीजन एक जानी मानी गैस है क्युकि ये हम इंसानों और सभी जीव जन्तुओ की जीवित रखती है ये गैस हमारा एक बहूत जरुरी हिस्सा है. पृथ्वी के वातावरण और हीड्रास्फीयर में ये एक ऐसी गैस है जिसका असर पेड़ पौधों जानवरों तथा मेटल्स सब पर पड़ता है मानव शरीर में 65 प्रतिशत हिस्सा बस ऑक्सीजन का ही होता है

ऑक्सीजन 2 रूप में पाई जाती है कार्बन डाई आक्साइड और ओजोन केमिस्ट्री की दुनिया में दोनों का कम्पोजीशन अलग होता है ऑक्सीजन एक एलिमेंट है ऑक्सीजन एक बहुत ज्यादा नॉन रिएक्टिव मेटल है जिनको सास लेने में दिक्कत होती है ऑक्सीजन के टैंक्स उनके लिए मेडिसिन बनाने में काम आते है

अंतरिक्ष यात्री और स्कूबा डाइवर्स भी इन ऑक्सीजन टैंक्स का इस्तेमाल करते है बड़ी बड़ी इंडस्ट्रीज में लोहे की मोटी चद्दर काटने में अथवा मशीनो के टूटे हुए भाग को जोड़ने में ऑक्सीजन तथा दहनशील गैस को इस्तेमाल किया जाता है.

इस प्रकार उत्पन्न ज्वाला का तापमान बहुत ही अधिक होता है साधारण ऑक्सीजन के साथ हाइड्रोजन या एसिटिलीन जलाई जाती है हमारे शरीर में हमारा ब्रेन, लीवर तथा हार्ट सबसे ज्यादा ऑक्सीजन का इस्तेमाल करते है कैनो बैक्टीरिया कुछ ऐसे जीव है जो कार्बन ग्रहण करके ऑक्सीजन प्रदान करते है

SEO Marketing क्या है ? कैसे काम करता है

बारिश क्यों होती है, बारिश कैसे होती है ?

पृथ्वी पे सबसे पहले ऑक्सीजन लाने वाले यही जीव थे तथा इस प्रक्रिया को GREAT OXIDATION EVENT कहा गया अगर गैस के रूप में हम देखे तो ऑक्सीजन का कोई रंग नहीं है परन्तु तरल अवस्था में ये पीला और नीला दिखता है ऑक्सीजन के तीन आइसोटोप होते है

ऑक्सीजन वायुमंडल में स्वतंत्र रूप में मिलता है और आयतन के हिसाब से ये उसका पाचवा भाग है अगर आप के शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा बहुत ही हद तक कम हो जाये तो ब्रेन डैमेज और हार्ट अटैक तक की स्तिथि बन जाता है इसकी कमी को पूरा करने का सबसे उपयुक्त उपाय पानी का सेवन करना है

इसीलिए डॉक्टर्स सलाह देते है की ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए शरीर में अचानक से ऑक्सीजन की कमी होने के कई कारण हो सकते है जैसे बहुत ज्यादा आलास करना या फिर बहुत ज्यादा शारीरिक मेहनत करना और उसके हिसाब से सही डाइट न लेना

तो दोस्तों उम्मीद करता हु की आप लोगो को ये जानकारी उपयुक्त लगी होगी जल्द ही आप लोगो से दोबारा मुलाकात होगी किसी नए और दिलचस्प टॉपिक के साथ
धन्यवाद...

You Can Share This Post!

author

Er Amit Gupta

By Maxhindi.in

Hello friends, I am Er Amit Gupta MaxHindi Technical Admin / Writer Talking about education, I am an Engineering Graduate and I love to teach and learn new things related to technology, you guys continue to give support like this so that new to you- Keep on bringing new information. Thank You: (# We MaxHindi Team Support Digital Knowledge Digital India Jai Hind Vande Mataram |

1 Comments

Leave Comments

captcha