Depression से Brain पर क्या प्रभाव पड़ता है ? पूरी जानकरी

1.Depression से हमारे  Brain पर क्या प्रभाव पड़ता है ?

आज कल हर कहीं आपने लोगों के मुंह से एक Word जरूर सुना होगा जिसके बारे में बहुत सारी बातें होती है और लोग कभी-कभी सोचने पर मजबूर हो जाते हैं कि कहीं यह हमारे साथ तो नहीं जुड़ा है या फिर हमारे अपने चाहने वालों के साथ और उस वर्ड का नाम है  Depression जी हा

दोस्तों Depression ऐसा मूड डिसऑर्डर होता है जो हमारे सोचने समझने और बिहेब करने के तरीकों पर नेगेटिव इफेक्ट डालता है दुनिया के  करीब 350 मिलियन लोग Depression से अफेक्टेड है जिनमें से कुछ को अपनी पूरी जिंदगी में बहुत ही थोड़ी टाइम के लिए Depression फील होता है


 जबकि कई लोगों को होने वाला Depression बहुत ही लंबा और सीरियस होता है जिसे Major Depressive Disorder या Major Depression कहा जाता है इसमें Suicide Thoughts आत्महत्या करने की सोच सेआते हैं गहरी निराशा और बेचैनी रहती है डिप्रेशन में रहते हुए 

डेली Activities पूरी करना भी बहुत ही मुश्किल लगने लगता है कई बार इसकी सिम्टम्स बहुत ही ज्यादा साधारण या ऑर्डिनरी दिखाई देते हैं जिससे Mood Swing होना बहुत उदासी होना लेकिन इन्हे Normal Behavior Ignore नहीं किया जा सकता क्योंकि ये Depression  हमारे Mind पर  बहुत ही गहरा और Negative असर डालता है

ऐसे में यह जानना भी जरूरी है कि Depression हमारे ब्रेन को  किस तरीके से अफेक्ट करता है इसलिए आज के इस Article में हम आपको बताने वाले हैं कि Depression से ब्रेन किस तरीके से  होता है इसलिए इस Article को पूरा जरूर पढ़े ताकि आप भी डिप्रेशन से बचाव के लिए अव्येर  हो सके और बाकी सब को भी अव्येर कर सके तो चलिए दोस्तों शुरु करते है 

2.Depression ब्रेन को किस तरीके से फैक्ट करता है

Depression ब्रेन को किस तरीके से फैक्ट करता है ब्रेन के तीन एरिया Depression से सबसे ज्यादा अफेक्ट होते हैं पहला है Hippocampals दूसरा है Amygdala है तीसरा है Prefrontal Cortex तो सबसे पहले जानते हैं ब्रेन के Hippocampals एरिया पर Depression के इफेक्ट को ब्रेन के सेंटर में Hippocampals एरिया Located होता है जो न्यू मेमोरीज को बनाने के लिए और Cortisol हार्मोन के Production को रेगुलेट करने के लिए Responsible होता है Cortisol हार्मोन Body से उस टाइम रिलीज होता है जब Physical और मेंटल स्ट्रेस होता है और Depression कि मात्रा काफी ज्यादा बढ़ जाती है 


जब लंबे टाइम तक कोर्टिसोल की ज्यादा मात्रा रिलीज होती रहती है तो ये हार्मोन Hippocampals एरिया में नये न्यूरान्स के Production को कम कर सकता है Cortisol का ये Accessive लेवल ब्रेन में पहले से मौजूद न्यूरो उसको श्रिंक भी कर सकता है 

और ऐसा होने पर मेमोरी लॉस जैसे सिम्टम्स दिखाई देने लगते हैं अब जानते हैं कि Depression ब्रेन के Amygdala एरिया को कैसे प्रभावित करता है ब्रेन का amygdala एरिया पीयर और प्लेजर जैसे emotional response इसके लिए जिम्मेदार होता है रिसर्च बताती है 

कि जिन लोगों में Depression होता है उनकी ब्रेन में Amygdala एरिया सादा बड़ा होता है और ज्यादा एक्टिव भी होता है Amygdala के साइज और एक्टिविटी में यह बढ़ोतरी कॉर्टिसोल हार्मोन के High Level से कनेक्ट होती है ऐसा होने पर ब्रेन एक्टिविटी अब नॉर्मल हो सकती हो सकता है हो सकता है 


यानि Depression होने पर न Body को रिलीज मिल सकता है और ना ही माइंड को Amygdala में होने वाली यह सारे चेंज ब्रेन  की दूसरे रियाज में भी Create Complications कर सकते हैं और आप जानते हैं Please Frontal Cortex और

Depression के Connection के बारे में क्रीम फ्रंटल कोटक ब्रेन के  फ्रन्ट एरिया  में लोकेटेड होता है ब्रेन का एरिया इमोशंस को रेगुलेट करने के लिए Responsible होता है साथ ही मेमोरीज बनाना और डिसीजन लेना भी ब्रेन की एरिया का काम होता है 

लेकिन जब कॉर्टिसोल हार्मोन बहुत ज्यादा मात्रा में लंबे टाइम तक रिलीज होता रहता है तो यह एरिया भी श्रिंक हो जाता है नार्मल Morning में हाईएस्ट रहते है और Night में लोग हो जाते हैं लेकिन ऐसे Depression लोग खासकर हमेशा रहता है 

रात को रहता है और सुबह से रात तक Cortisol levels high बना रहता है जो कि brain functions  को Negative effects करता रहता है Cortisol Hormone Brain  पर सबसे ज्यादा असर डालता है और इस हार्मोन का लेवल ब्रेन के physical structure  

और केमिकल Activities दोनों को अफेक्ट करता है और इसके प्रभाव से डिप्रेशन एक नॉर्मल ब्रेन पर हमला बोल देता है Inflammation का कारण भी बन सकता है एक स्टडी के अनुसार ऐसे लोग जो 10 साल से ज्यादा समय तक रहते हैं उनमें 30% से ज्यादा Inflammation पाई जाती है 

और ब्रेन में आने वाली सूजन डिप्रेशन को पहले से ज्यादा खराब Situation में ले जाती है क्योंकि ऐसे न्यूरोट्रांसमीटर्स को अफेक्ट करती है जो और करते है और क्योंकि ऐसे न्यूरोट्रांसमीटर्स को अफेक्ट करती है जो मूड लर्निंग और मेमोरी को रेगुलेट करते हैं 

और इतना ही नहीं ब्रेन की Hyperxia जैसी situation भी डिप्रेशन लेडीग होता है Hyperxia में ब्रेन में ऑक्सीजन की कमी हो जाती है और सफिशिएंट अमाउंट  में ऑक्सीजन नहीं मिलने से ब्रेन सेल्स में information होने लगती है कई बार ब्रेन सेल्स में इंजरी भी आ सकती है 

और ब्रेन सेल्स डैड भी हो सकती है यानी कि मर सकती है ऐसा होने पर लर्निंग मेमोरी और मूड नेगेटिव इफेक्ट होते हैं डिप्रेशन के सिम्टम्स बॉडी में देखे जा सकते हैं लेकिन ब्रेन को डिप्रेशन कैसे व्यक्त करता है यह कुछ वक्त के बाद बिहेवियर में होने वाले चेंजर से ही पता लगाया जा सकता है डिप्रेशन से सरदार स्पेन और थकान जैसे Ordinal systems के अलावा हार्ट डिजीज स्ट्रोक का खतरा भी बहुत ज्यादा बढ़ जाता है


जाता है तो दोस्तों डिप्रेशन एक सीरियस मूड डिसऑर्डर जरूर है लेकिन सही समय पर इसका इलाज लेकर आप इस ठीक भी कर सकते हैं इसके लिए ब्रेन में कॉर्टिसोल हार्मोन और दूसरे chemicals के अमाउंट को बैलेंस किया जा सकता है 

तुझसे हिप्पोकेंपस में होने वाले श्रिंकेज और मेमोरी प्रॉब्लम को ट्वीट किया जा सकता है इसके अलावा Medication की मदद से भी डिप्रेशन की ब्रेन पर पड़ने वाले Negative Impacts को दूर किया जा सकता है और इस बात का विश्वास रखिए कि

अगर कोई Problem आई है तो उसका solution जरूर है आपको उस प्रॉब्लम के Export के पास पहुंच कर आपको नहीं पता है कौन Export है तो प्लीज आप जो mental stress पर काम करते हैं उनसे contact कीजिए वह आपको दवाइयां नहीं तो थेरेपी होती है उसकी थुरु Communicate करके आपकी प्रॉब्लम को solve कर सकते हैं 

और विश्वास कीजिए आपके दोस्त और आपके रिश्तेदार जो भी आपकी Closeup प्लीज आप उनसे पहली फुर्सत में सबसे पहले आप उनसे बात कीजिए अपने दिमाग में आपने जो दुनिया बसा रखी है उसे बाहर निकलने की कोशिश कीजिए तो 

इस Article को पढ़ते समय किसी भी मोमेंट आपको लग रहा है कि हा  आपको किसी से बात करने की जरूरत है तो प्लीज कॉल लगाइए और जो आपके क्लोज है उनसे बात कीजिए डिसकस कीजिए आप हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर की भी अपनी बात शेयर कर सकते हैं please  घबराइए मत हर छोटी बड़ी प्रॉब्लम का सलूशन जरूर है 

और कोई भी प्रॉब्लम यकीन मानिए आप से बड़ी नहीं है उम्मीद का दामन कभी ना छोड़े इसी के साथ maxhindi.in  ये उमीद करते  है की डिप्रेशन से ब्रेन पर पड़ने वाले एपैक्ट के बारे हमने इस article ने जो भी इनफार्मेशन share की है वह आपके लिए मददगार साबित होगा  ध्यान रखेंगे तो आगे भी ऐसी जानकारियां लेने के लिए maxhindi blog में जुड़े रहे धन्यवाद 

You Can Share This Post!

author

Rajan

By Maxhindi.in

नमस्कार दोस्तों मैं Rajan Gupta मैं हाई स्कूल में पढ़ता हूँ Author होने के साथ ही मैं एक student हूँ

0 Comments

Leave Comments

captcha